virat kohli

आराम के नाम पर किसी खिलाड़ी को खेल से ही जुदा कर दोगे तो कैसे लौटेगी फॉर्म?

पूर्व कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने इंग्लैंड के खिलाफ कुछ भी प्रभावशाली प्रदर्शन नहीं किया था जिसके बाद उन्हें आराम देने के बहाने टीम से निकाल दिया गया था। वेस्टइंडीज़ के खिलाफ वनडे सीरीज में उन्हें नहीं खिलाया गया न ही वह T20 सीरीज में खेलेंगे। अब सवाल यह उठता है की क्या उन्हें ज़िम्बाम्ब्वे के खिलाफ सीरीज में जगह मिलेगी भी या नहीं।

विराट काफी समय से खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं। इंग्लैंड सीरीज के बाद से ही वह टीम इंडिया से गायब हो गए हैं। प्रशंशक भी यही उम्मीद लगा रहे हैं की विराट की फॉर्म जल्द से जल्द लौट आये जिससे भारतीय क्रिकेट टीम को फायदा पहुंचे क्योंकि यह बात सबको मालूम है की विराट कोहली क्या कमाल दिखा सकते हैं। लेकिन किसी खिलाड़ी को आप टीम से निकाल ही देंगे तो कैसे कोई खिलाड़ी फॉर्म वापस पा सकता है।

हाल ही में यह भी खबर आई है की ज़िम्बाम्ब्वे के खिलाफ खेले जाने वाली सीरीज़ में विराट कोहली भी खेल सकते हैं, को लेकर लगातार बहस किये जा रहे हैं की कोहली को जिम्बाम्वे के खिलाफ सीरीज में हिस्सा लेना चाहिए या नहीं। इस पर पूर्व बल्लेबाज़ और विकेटकीपर बल्लेबाज़ सबा करीम ने अपनी राय रखी है। चलिए जानते हैं उन्होंने क्या कहा है?

स्पोर्ट्स 18 के शो स्पोर्ट्स ओवर द टॉप पर सबा ने कहा की, ” इस बात का निर्णय पूरी तरह से भारतीय सेलेक्टर्स के ऊपर है की वे विराट कोहली को विश्वकप के लिए सेलेक्ट करना भी चाहते हैं या नहीं? जब टीम मैनेजमेंट यह तय कर ले की विराट कोहली विश्वकप में खेलेंगे या नहीं उसके बाद मैं उनके फॉर्म में वापस आने का चार्ट तैयार कर सकता हूँ।”

सबा करीम ने यह भी कहा, “मुझे ऐसा लगता है तब सही समय होगा जब सेलेक्टर्स, कप्तान या हेड कोच राहुल द्रविड़ इस मामले में विराट कोहली से बात कर ले और इसे आगे बढ़ाएं। मैं विराट कोहली पर किसी बात का दबाव नहीं डालना चाहता हूँ। विराट से हम यह नहीं कह सकते की सुनो, तुमको जिम्बॉम्बवे के खिलाफ सीरीज़ खेलने जाओ, नहीं तो हम तुम्हें t20 विश्वकप के लिए नहीं चुनेंगे। उसके बाद ही तय किया जा सकता है विराट कोहली को जिम्बॉम्बवे के खिलाफ वनडे सीरीज खेलनी चाहिए या ब्रेक और बढ़ाया जाना चाहिए जिससे वह एशिया कप के लिए टीम इंडिया में वापसी करें।