Indian Cricket Team Players

टीम इंडिया के 5 ऐसे रिकार्ड्स जिन्हें बहुत कम लोग ही जानते हैं

क्रिकेट की प्रसिद्धि की बात करें तो भारत में यह खेल सबसे ज्यादा प्रसिद्द है। यहां पर क्रिकेट को सिर्फ खेला और देखा ही नहीं जाता बल्कि इसे पूजा और जिया जाता है।

भारत में कई ऐसे महान खिलाड़ी हुए हैं जिन्होंने लोगों के दिलों में राज़ किया, लोगों ने इन्हें सम्मान दिया है और इन खिलाड़ियों ने भी भारतीय क्रिकेट को अपनी कुशलता के ज़रिये बुलंदियों पर पहुँचाया है। चलिए भारतीय टीम के कुछ रिकार्ड्स की बात कर लेते हैं जिन्हें तोड़ पाना बेहद ही मुश्किल है, इन रिकार्ड्स को जिन खिलाडियों द्वारा बनाया गया है हम उनकी भी चर्चा करेंगे।

सबसे ज्यादा छक्कों के साथ खेल खत्म करने का रिकॉर्ड

महेंद्र सिंह धोनी एक ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें भारत का सर्वश्रेष्ठ फिनिशर माना जाता है। धोनी को अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिए काफी समय हो गया है तब से लेकर अब तक भारत को उनके जैसा सर्वश्रेष्ठ फिनिशर नहीं मिला है। धोनी की यह आदत रही है की वह ज्यादातर मैचों को छक्के के साथ ख़तम करते थे।

धोनी के नाम एक अनोखा रिकॉर्ड है उन्होंने तकरीबन 9 बार मैच को छक्के के साथ समाप्त किया है।

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक

हमारे लिए गर्व की बात है की ऐसा खिलाड़ी जिसने सबसे ज्यादा शतक लगाए हैं, वह भारतीय है। जी हाँ अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक लगाने का रिकॉर्ड भी भारत के पास है। यह कारनामा क्रिकेट के भगवान् कहे जाने वाले खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर ने किया था। सचिन को संन्यास लिए हुए काफी समय लेकिन आज तक कोई भी ऐसा खिलाड़ी नहीं आया है जिसने उनका यह रिकॉर्ड तोड़ने का भी सोचा हो।

सचिन ने लगभग सौ बार शतक लगाया है।

मैच की पहली इनिंग में सेंचुरी

अपनी पहली इनिंग खेलते हुए शतक मारने का रिकॉर्ड भी भारत के केएल राहुल पास ही है। राहुल ने वनडे और टेस्ट मैच की अपनी पहली इंनिग में शतक लगाया हुआ है।

पहले ही ओवर में हैट्रिक

भारत के तेज़ गेंदबाज़ इरफ़ान पठान के पास यह रिकॉर्ड है। यह अपने-आप में एक अनोखा रिकॉर्ड है। इरफ़ान पठान के नाम यह रिकॉर्ड तब आया जब उन्होंने टेस्ट मैच खेलते हुए उस मैच के पहले ओवर में ही हैट्रिक लेली थी। यह एक बेहद ही अहम् रिकॉर्ड है और इसे तोडना नाममुकिन है।

सबसे तेज़ 200 विकेट

अगर बात करें सबसे तेज़ या जल्द 200 विकेट लेने वाले खिलाड़ी की तो वह हैं रविचंद्र आश्विन। इस खिलाड़ी ने मात्र 10291 गेंदें फेंकते हुए 200 विकेट लिए हैं। ऐसा करने वाले यह पहले खिलाड़ी हैं।